Vedalex Tulsi वेदलेक्स तुलसी

वेदालेक्स तुलसी ड्रॉप्स क्या है? जाने इसके 12 बड़े फायदे | Top Benefits of Vedalex Tulsi

5/5 – (1 vote)

“Vedalex” तुलसी ड्रॉप्स

5 तरह की लाभदायक तुलसियों का सत्त्

Ingredients:

  • राम तुलसी
  • श्वेत तुलसी
  • काली तुलसी
  • वन तुलसी
  • कपूर तुलसी

तुलसी भारतीय संस्कृति का एक प्राचीनतम हिस्सा है। सदियों से तुलसी की भारत में पूजा की जा रही है। इसका कारण है इसके अंतहीन चमत्कारी और औषधीय गुण। आयुर्वेद में तुलसी को सर्वरोग नाशक कहा गया है। तुलसी जड़ी-बूटियों की रानी मानी जाती है क्योंकि तुलसी के समान स्वास्थ्य लाभ देने वाली कोई दूसरी जड़ी-बूटी संसार में नहीं है।

Vedalex Tulsi

तुलसी पौष्टिक गुणों से भरपूर है तथा इसमें हमारे शरीर और स्वास्थ्य के लिये अनिवार्य विटामिन ए, बीटाकेरोटीन, पोटेशियम, आयरन, कॉपर मैगनीज और मैग्नीशियम जैसे खनिज (मिनरल्स) प्राकृतिक तौर पर पाये जाते है। तुलसी दुनिया का सर्वोत्तम एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एटी-वायरल, एंटी-एलर्जिक और एंटी-डीसिज पौधा है। संक्रमण का इलाज करने के लिए तुलसी को सबसे बेहतरीन जड़ी बूटी माना जाता है।

अपने अंतहीन स्वास्थ्य सम्बन्धी गुणों के कारण तुलसी सैंकड़ों बीमारियों में लाभ प्रदान करती है, जैसे- थकान, तनाव, भूख में

कमी, खाँसी-जुकाम, उल्टी, साधारण बुखार, मोटापा, अल्सर, जोड़ों के दर्द, ब्लैड प्रैशर, शुगर, एलर्जी, पलू, स्वाइन फ्लू, डेंगू,

हैपेटाइटिस, पेशाब सम्बन्धी समस्या, वातरोग, दिल के रोग, फेफड़ों के रोग, नपुसंकता आदि।

अब तुलसी के अंतहीन गुणों को आपके दैनिक जीवन का हिस्सा बनाने के लिये प्रस्तुत है वेदालंक्स की तुलसी ड्रॉप्स।

रोगों से आपकी रक्षा करने के लिये और आपके स्वास्थ्य को लम्बे समय तक बरकरार रखने के लिये पाँच तरह की लाभदायक तुलसियों के सत्त् से वेदालेक्स तुलसी ड्रॉप्स को तैयार किया गया है। इसका नियमित उपयोग शरीर के प्रत्येक भाग और प्रत्येक नस-नाड़ी में जमा हुई गंदगी को गला कर बाहर निकालने में और खोये हुये स्वास्थ्य को वापिस पाने में बहुत मदद करता है।

तुलसी ड्रॉप्स के लाभ व उपयोगः

अपने स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिये वेदालेक्स तुलसी ड्रॉप्स की एक बूँद, एक ग्लास पानी या चाय में डालकर

इस्तेमाल करें साधारण जुकाम, छींके, उल्टी, दस्त, सिरदर्द, बदनदर्द या बुखार इत्यादि में वेदालेक्स तुलसी ड्रॉप्स की दो बूंदें शहद में मिलाकर दें।

प्रत्येक व्यक्ति को प्रतिदिन वेदालेक्स तुलसी ड्रॉप्स की 4-5 बूँदें अवश्य सेवन करनी चाहिए।

नोट:-

तुलसी का सेवन दूध के साथ ना करे।

तुलसी आँखों में ना डालें, गलती से आँखों में जाने पर तुरन्त साफ पानी से अच्छी तरह धो लें और नेत्र चिकित्सक से सम्पर्क करें।

“Vedalex Tulsi” परंपरागत भारतीय चिकित्सा (आयुर्वेद) में एक प्रमुख औषधि है जिसे कई लाभ माने जाते हैं:

  1. प्रतिरोधक गुणधर्म: Vedalex Tulsi में प्रतिरोधक अंश भरपूर होते हैं, जो ऑक्सिडेटिव तनाव का सामना करते हैं और कोशिकाओं को मुक्त-रेडिकल क्षति से बचाते हैं।
  2. प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन: Vedalex Tulsi रोगाणुओं और बीमारियों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि कर सकती है, जिससे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को सुदृढ़ किया जा सकता है।
  3. शोथ-नाशक प्रकृति: Vedalex Tulsi में शोथ-नाशक गुण होते हैं, जो शरीर में शोथ को कम कर सकते हैं और इससे संबंधित लक्षणों को उतार सकते हैं।
  4. श्वसन स्वास्थ्य: Vedalex Tulsi आमतौर पर खांसी, जुकाम और जमाव की समस्याओं को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है, जिससे श्वसन आसान हो जाता है।
  5. पाचन मदद: Vedalex Tulsi पाचन में मदद कर सकती है, पेट की असहमति को शांत कर सकती है, और संपूर्ण पाचन स्वास्थ्य को समर्थ कर सकती है।
  6. तनाव निवारण: Vedalex Tulsi एक अडैप्टोजेन के रूप में जाना जाता है, जो तनाव से निपटने में मदद करता है और मानसिक तौर पर सुखदायकता को बढ़ावा देता है।
  7. ह्रदय स्वास्थ्य: Vedalex Tulsi में मौजूद घटक ह्रदय स्वास्थ्य को समर्थन कर सकते हैं और स्वस्थ रक्त-चरण और रक्त-संचार को बेहतर बना सकते हैं।
  8. जैविक अस्थायित्व: Vedalex Tulsi विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर होती है, जो कि त्वचा, प्रतिरक्षा कार्य, और कॉलेजन उत्पादन के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।
  9. ऊर्जा की बढ़ोत्तरी: Vedalex Tulsi में प्राकृतिक शर्करा और पोषक तत्व होते हैं, जो कि प्राकृतिक ऊर्जा को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं।
  10. मस्तिष्क स्वास्थ्य: Vedalex Tulsi को माना जाता है कि इसमें मस्तिष्क के लिए लाभकारी गुण होते हैं, जो मस्तिष्क कार्य और स्मृति को समर्थन कर सकते हैं।
  11. विषरोधीकरण: Vedalex Tulsi में विषरोधीकरणीय गुण माना जाता है, जो शरीर की प्राकृतिक विषमुक्ति प्रक्रियाओं को समर्थ कर सकते हैं।
  12. संयुक्त स्वास्थ्य: शोथ-नाशक गुण संयुक्त स्वास्थ्य को समर्थन करते हैं और गठिया जैसी शरीर के विभिन्न अवस्थाओं के साथ जुड़े गुदाओं के लिए सूजन को कम कर सकते हैं।